शौनक ऋक्प्रातिशाख्य । NTA NET SANSKRIT CODE 25 UNIT-02 (By Rajnish)

0 Просмотры
Издатель
NTA NET SANSKRIT ( CODE 25 ) UNIT-02 के अन्तर्गत शौनक कृत प्रातिशाख्य के क्रमशः सूत्रों की व्याख्या । आप आजीवन नहीं भूलेंगे । परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण श्रृंखला है ।



अन्य विडियो के माध्यम से वैदिक साहित्य का सरलता से अध्ययन कर सकते हैं ।


टेलीग्राम से भी जुड़े
Категория
Фантастика онлайн
Комментариев нет.
Яндекс.Метрика